Search Study Material

Wednesday, 25 November 2020

बिहार विधानसभा अध्यक्ष बने विजय कुमार सिन्हा | Bihar Assembly New Speaker

बिहार विधानसभा के नए अध्यक्ष बीजेपी नेता विजय कुमार सिन्हा (Vijay Kumar Sinha) 25 नवंबर 2020 को बन गए। उनको मतदान में 126 मत मिले जबकि महागठबंधन के उम्मीदवार अवध बिहारी चौधरी को 114 मत मिले। विजय कुमार सिन्हा विधानसभा के नए अध्यक्ष होंगे इसकी घोषणा प्रोटेम स्पीकर जीतनराम मांझी ने की। बिहार विधानसभा के अध्यक्ष पर निर्विचित होने वाले विजय सिन्हा पहले भाजपा विधायक हैं। इससे पहले कभी भी बिहार में भारतीय जनता पार्टी का स्पीकर नहीं बना था।

Bihar Assembly New Speaker


Bihar Assembly New Speaker

बिहार विधानसभा के नवनिर्वाचित अध्यक्ष विजय कुमार सिन्हा चौथी बार लखीसराय से जीत कर विधानसभा पहुंचे हैं। मार्च 2005 में वे पहली बार विधायक निर्वाचित हुए लेकिन अक्टूबर 2005 के चुनाव में 80 मतों से हार गए। साल 2010 में फिर जीत हासिल हुई। 2015 के बाद 2020 में भी वे लखीसराय से चुनाव जीते। साल 2017 में 29 जुलाई को एनडीए सरकार में श्रम संसाधन विभाग का मंत्री बनाया गया। बतौर मंत्री बेगूसराय के प्रभारी मंत्री रहे।

विजय कुमार सिन्हा वर्ष 1980 में बाढ़ नगर में भाजपा से जुड़े और 1992 में पटना महानगर भाजपा के अधीन लोकनायक मंडल के अध्यक्ष बने। वर्ष 2002 में भाजपा युवा मोर्चा के प्रदेश सचिव, 2004 में प्रदेश कार्यसमिति सदस्य तो साल 2013 व 2015 में प्रदेश भाजपा प्रवक्ता सहित कई अहम सांगठनिक पदों पर रहे।

वह सर्वप्रथम 1985 में चंद्रशेखर की अध्यक्षता वाली जनता पार्टी से जीते। वर्ष 1990 और 1995 में वे जनता दल के टिकट पर जीते और लालू सरकार में मंत्री बने। वर्ष 2000 में राजद प्रत्याशी के रूप में जीते। वे 1990 से 2005 तक लालू और राबड़ी सरकार में मंत्री रहे। वर्ष 2005 का चुनाव हार गए। वर्ष 2014 में लोकसभा चुनाव से पूर्व वे जदयू में चले गए और 2017 में फिर राजद में वापसी की। तब उन्हें राजद के प्रदेश संसदीय बोर्ड का चेयरमैन बनाया गया। वे अभी भी इस पद पर हैं।

विजय सिन्हा का जन्म 5 जून 1967 को हुआ था। उन्होंने बेगूसराय के सरकारी पॉलीटेक्निक कॉलेज से सिविल इंजीनियरिंग में डिप्लोमा किया था। उन्होंने 1989 में ये डिप्लोमा हासिल किया था। विधायक के साथ-साथ विजय सिन्हा को सरकार का भी अनुभव है। पिछली नीतीश कुमार सरकार में वो श्रम संसाधन मंत्री रहे हैं। विजय सिन्हा भूमिहार जाति से आते हैं। राज्य में प्रवक्ता के अलावा संगठन में भी विजय सिन्हा कई स्तर पर काम कर चुके हैं।

सिन्हा के पिता शिक्षक थे। ये पांच भाई में चौथे हैं। इन्हें चार संतान में दो लड़का और दो लड़की है। दोनों लड़कियों की शादी हो चुकी है। दोनों दामाद बैंक अधिकारी हैं। जबकि बड़ा बेटा इंजीनियर है। छोटा बेटा भी इंजीनियरिंग में पढ़ रहा है। सिन्हा का नानी घर लखीसराय जिले के चानन प्रखंड अंतर्गत तिलकपुर गांव में है। उनका लालन पालन और उनकी प्रारंभिक शिक्षा दीक्षा नानी घर में हुई थी।

No comments:

Post a comment