Search Study Material

Sunday, 6 December 2020

[Download PDF] राजस्थान एक नजर में: राजस्थान सामान्य ज्ञान सभी परीक्षाओं के लिए

राजस्थान सामान्य ज्ञान एक नजर में हिंदी (Rajasthan at Glance in Hindi): 'राजस्थान' शब्द का सर्वप्रथम प्रयोग कर्नल जेम्स टॉड ने राजस्थान के इतिहास पर 1829 में लंदन में प्रकाशित अपनी प्रसिद्ध ऐतिहासिक कृति 'Annals and Antiquities of Rajasthan' में किया।

स्वतंत्रता पश्चात् राज्य पुनर्गठन की प्रक्रिया के दौरान अलग–अलग नामकरण के पश्चात् अन्ततः 26 जनवरी, 1950 को औपचारिक रूप से इस संपूर्ण भौगोलिक प्रदेश का नाम 'राजस्थान स्वीकार किया गया। तब अजमेर–मेरवाड़ा क्षेत्र इसमें शामिल नहीं था। 1 नवंबर, 1956 को राज्य का पुनर्गठन होने पर यह क्षेत्र भी राजस्थान का हिस्सा हो गया।

Rajasthan at Glance in Hindi

राजस्थान का महत्वपूर्ण परिचय के अंतर्गत यहां परीक्षा उपयोगी तथ्य संग्रह दिया गया है। जो राजस्थान सरकार द्वारा आयोजित सभी प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए उपयोगी होगा।

इसकी पीडीएफ आप नीचे डाउनलोड बटन के माध्यम से  डाउनलोड कर सकते है।

  • राजस्थान का क्षेत्रफल – 342239 वर्ग किमी
  • राजस्थान की लंबाई (उत्तर से दक्षिण) – 826 किमी
  • राजस्थान की चौड़ाई (पूर्व से पश्चिम) – 869 किमी
  • देश के क्षेत्रफल का प्रतिशत – 10.41 प्रतिशत
  • क्षेत्रफल की दृष्टि से राजस्थान का देश में स्थान – प्रथम
  • राजस्थान की आकृति – विषम कोणीय चतुर्भुज के समान
  • राजस्थान का सबसे बड़ा जिला (क्षेत्रफल की दृष्टि से) – जैसलमेर 38401 वर्ग किमी
  • राजस्थान का सबसे छोटा जिला (क्षेत्रफल में) – धौलपुर (3034 वर्ग किमी)
  • राजस्थान का नवगठित (33वाँ) जिला – प्रतापगढ़
  • राजस्थान का नवीन (7वाँ) संभाग – भरतपुर
  • राजस्थान की राजभाषा – हिंदी
  • राजस्थान की जनसंख्या (2011) – 685.48 लाख
  • राजस्थान की नगरीय जनसंख्या – 170.48 लाख (24.9%)
  • राजस्थान की ग्रामीण जनसंख्या – 515 लाख (75.1%)
  • साक्षरता दर (2011) – 66.1 प्रतिशत
  • पुरुष साक्षरता दर – 79.2 प्रतिशत
  • महिला साक्षरता दर – 52.1 प्रतिशत
  • राज्य ग्रामीण साक्षरता दर – 61.4 प्रतिशत
  • राज्य की नगरीय साक्षरता दर – 79.7 प्रतिशत
  • लिंगानुपात (2011) – 928
  • राज्य का ग्रामीण लिंगानुपात – 933
  • राज्य का नगरीय लिंगानुपात – 914
  • शिशु लिंगानुपात – 888
  • ग्रामीण शिशु लिंगानुपात – 892
  • शहरी शिशु लिंगानुपात – 874
  • अनुसूचित जाति जनंसख्या का प्रतिशत – 17.83 प्रतिशत
  • अनुसूचित जनजाति जनसंख्या का प्रतिशत – 13.48 प्रतिशत
  • जनसंख्या घनत्व – 200
  • दशकीय वृद्धि दर (2001–11) – 21.31%
  • नगरीय दशकीय वृद्धि दर – 29.0%
  • ग्रामीण दशकीय वृद्धि दर –19.0%
  • 10 लाख से अधिक आबादी (मिलियन प्लस आबादी) वाले शहर – 3 (जयपुर, जोधपुर और कोटा)
  • 5 लाख से अधिक आबादी वाले शहर – 5 (जयपुर, जोधपुर, कोटा, बीकानेर और अजमेर)
  • 1 लाख से अधिक आबादी वाले शहर – 30
  • सर्वाधिक उपखंडों वाला जिला – भीलवाड़ा (16)
  • न्यूनतम उपखंडों वाला जिला – जैसलमेर (4)
  • राजस्थान की सर्वाधिक तहसीलों वाला जिला – जयपुर (17) और अलवर (17)
  • सबसे कम तहसीलों वाला जिला – जैसलमेर (4)
  • सर्वाधिक पंचायत समितियों वाला जिला – जयपुर (22)
  • न्यूनतम पंचायत समितियों वाला जिला – सिरोही, बूंदी और कोटा (5–5)
  • न्यूनतम ग्राम पंचायतों वाला जिला – कोटा (158)
  • सर्वाधिक ग्राम पंचायतों वाला जिला – बाड़मेर (689)
  • सर्वाधिक गाँवों वाला जिला – श्रीगंगानगर
  • सबसे कम गाँवों वाला जिला – सिरोही
  • सर्वाधिक नगर पालिकाएँ व नगर निकाय – जयपुर (14)
  • सर्वाधिक पटवार मंडल – जयपुर (613)
  • न्यूनतम पटवार मंडल – जैसलमेर (139)
  • सर्वाधिक आर्द्र जिला – झालावाड़
  • सर्वाधिक आर्द्र स्थान – माउंट आबू (सिरोही)
  • सर्वाधिक शुष्क स्थान – फलौदी (जोधपुर)
  • सर्वाधिक गर्म स्थान – चूरू
  • सर्वाधिक ठंडा स्थान – माउंट आबू
  • सर्वाधिक लू और आँधी वाला – जिला श्रीगंगानगर
  • राजस्थान के सबसे नजदीक स्थित बंदरगाह – कांडला
  • पाकिस्तान से लगती सर्वाधिक लंबी अंतर्राष्ट्रीय सीमा वाला जिला – जैसलमेर
  • राजस्थानों से लगती सर्वाधिक लंबी सीमा वाला जिला – झालावाड़
  • सबसे कम लंबी राजस्थान सीमा – पंजाब से
  • सर्वाधिक लंबी अंतर्राजस्थानीय सीमा – मध्यप्रदेश से
  • वह जिला जिसकी सीमा सर्वाधिक जिलों से मिलती है – पाली (8)
  • राजस्थान की राजधानी – जयपुर
  • जिले – 33
  • उपखंड (जून, 2020 में) – 294
  • तहसीलें (जून, 2020 में) – 338
  • उपतहसीलें (जून, 2020 में) – 181
  • कुल पटवार मंडल – 10832
  • जिला परिषदें – 33
  • पंचायत समितियाँ – 352
  • ग्राम पंचायतें – 11341
  • नगर निकाय (जून, 2020 में) – 212
  • नगर पालिकाएँ (जून, 2020 में) – 168
  • नगर परिषद् – 34
  • नगर निगम – 10 (जयपुर, जोधपुर ​और कोटा में 2–2, अजमेर, बीकानेर, उदयपुर और भरतपुर)
  • विधानसभा सदस्य – 200
  • राजस्थान से लोकसभा सदस्य – 25
  • राजस्थान से राज्यसभा सदस्य – 10
  • राजस्थान का विधानमंडल – एक सदनात्मक
  • सर्वाधिक वर्षा वाला स्थान – माउंट आबू
  • सर्वाधिक वर्षा वाला जिला – झालावाड़
  • न्यूनतम वर्षा वाला जिला – जैसलमेर
  • राजस्थान की प्राचीनतम पर्वतमाला – अरावली
  • राजस्थान की सबसे ऊंची पर्वत चोटी – गुरु शिखर (1722 मीटर)
  • राजस्थान का सबसे ठंडा महीना – जनवरी
  • राजस्थान का सबसे गर्म महीना – जून
  • मिट्टी का अवनालिका अपरदन सर्वाधिक करने वाली नदी – चंबल
  • राजस्थान में सर्वाधिक मिट्टी अपरदन – वायु से
  • वे जिले जहाँ कोई नदी नहीं है – चुरू व बीकानेर
  • राजस्थान की सबसे लंबी नदी – चंबल
  • पूर्णतः राजस्थान में बहने वाली सबसे लंबी नदी – बनास
  • राजस्थान की बारहमासी नदियाँ –चंबल व माही
  • कर्क रेखा को दो बार पार करने वाली नदी – माही
  • दक्षिणी राजस्थान की स्वर्ण रेखा – माही
  • सबसे ज्यादा नदियों वाला संभाग – कोटा संभाग
  • घड़ियालों की शरण स्थली – चंबल
  • सर्वाधिक मात्रा में सतही जल वाली नदी – चंबल नदी
  • बनास–मेनाल–बेड़च : बीगोद के पास (भीलवाड़ा)
  • माही–जाखम–सोम : बेणेश्वर (डूंगरपुर)
  • बनास–चंबल–सीप : रामेश्वर घाट (सवाई माधोपुर)
  • वागड़ व कांठल की गंगा – माही
  • सर्वाधिक जलग्रहण क्षेत्र वाली नदी – बनास
  • अंतरराज्यीय सीमा बनाने वाली राजस्थान की एकमात्र नदी – चंबल
  • सर्वाधिक जिलों में बहने वाली नदियाँ – चंबल, बनास और लूनी (प्रत्येक 6 जिलों में)
  • भारत की दूसरी सबसे बड़ी खारे पानी की झील – सांभर
  • राजस्थान की सबसे ऊँची झील – नक्की झील (माउंट आबू)
  • राजस्थान में झीलों के खारेपन का कारण – टेथिस सागर के अवशेष
  • राजस्थान की मरुगंगा व जीवन रेखा – इंदिरा गाँधी नहर
  • राजस्थान का सर्वाधिक वन क्षेत्र वाला जिला – उदयपुर
  • राजस्थान का न्यूनतम वन क्षेत्र वाला जिला – चुरू
  • विश्व का एक मात्र वृक्ष मेला – खेजड़ली (जोधपुर)
  • राजस्थान में राष्ट्रीय उद्यान – 3
  • राजस्थान में टाइगर रिजर्व – 3
  • नवस्थापित टाइगर रिजर्व व राष्ट्रीय उद्यान – मुकंदरा हिल्स अभयारण्य
  • राजस्थान में वन्य जीव अभयारण्य (राजस्थान आर्थिक समीक्षा 2019–20 के अनुसार–26) – 27 (वन विभाग के अनुसार)
  • रामसर स्थल (Wetlands) – 2 (घना पक्षी विहार व साँभर झील)
  • मृग वन – 7
  • जंतुआलय – 5
  • आखेट निषिद्ध क्षेत्र – 33
  • कंजर्वेशन, रिजर्व – 14
  • राजस्थान का पहला राष्ट्रीय उद्यान – रणथम्भौर राष्ट्रीय उद्यान
  • राजस्थान की पहली बाघ परियोजना – रणथम्भौर टाइगर प्रोजेक्ट
  • राजस्थानी नृत्य – घूमर
  • राजस्थानी गीत – केसरिया बालम पधारो नी म्हारे देश
  • राजस्थान का राज्य पुष्प – रोहिड़ा
  • राज्य वृक्ष – खेजडी
  • राज्य पक्षी – गोडावण
  • राज्य पशु – चिंकारा व ऊँटा
  • राज्य खेल – बास्केटबॉल
  • रेगिस्तान का कल्पवृक्ष – खेजड़ी
  • वर्ष 2018–19 में खाद्यान्न उत्पादन – 231.25 लाख मैट्रिक टन
  • राजस्थान में पशु संपदा (2019 की पशु गणना के अनंतिम आँकड़े) – 568.01 लाख
  • राजस्थान में कुक्कुट (2019 में) – 146.23 लाख
  • देश के कुल पशुधन का प्रतिशत – 10.58 प्रतिशत (2019 में)
  • राजस्थान में सर्वाधिक पशु – बकरियाँ
  • पशु घनत्व (2019 में) प्रति वर्ग किमी में – 166
  • सर्वाधिक पशु घनत्व (2012) – दौसा व राजसमंद
  • न्यूनतम पशु घनत्व (2012) – जैसलमेर
  • राजस्थान की कामधेनु – राठी गाय
  • भारत की मेरिनो – चोकला भेड़
  • राजस्थान का दुग्ध उत्पादन में देश में स्थान – द्वितीय
  • सर्वाधिक दुग्ध उत्पादक जिला – जयपुर
  • न्यूनतम दुग्ध उत्पादक जिला – बाँसवाड़ा
  • सर्वाधिक ऊन उत्पादक जिला – जोधपुरी
  • न्यूनतम ऊन उत्पादक जिला – झालावाड़
  • एशिया की ऊन की सबसे बड़ी मंडी – बीकानेर
  • राजस्थान का एक मात्र दुग्ध विज्ञान तकनीकी महाविद्यालय – उदयपुर
  • राजस्थान का एक मात्र पक्षी चिकित्सालय – जयपुर
  • सरकारी क्षेत्र के विश्वविद्यालयात (केंद्रीय विश्वविद्यालय व ILD कौशल विवि सहित) – 29
  • विश्वविद्यालयवत् संस्थाएँ (राष्ट्रीय आयुर्वेद संस्थान डीम्ड युनिवर्सिटी भी घोषित किया जाएगा) – 7
  • निजी विश्वविद्यालय – 52
  • भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (IIT) – जोधपुर
  • भारतीय प्रबंध संस्थान (IIM) – उदयपुर
  • अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIIMS) – जोधपुर
  • राजकीय चिकित्सा महाविद्यालय (AIIMS के अलावा) – 22
  • निजी चिकित्सा महाविद्यालय – 8
  • राजकीय दंत चिकित्सा महाविद्यालय – 1
  • निजी दंत चिकित्सा महाविद्यालय – 15
  • राजकीय इंजीनियरिंग महाविद्यालय – 15
  • सर्वाधिक कृषि क्षेत्रवाली फसल – बाजरा
  • सर्वाधिक बंजर व व्यर्थ भूमि – जैसलमेर जिले में
  • राजस्थान में सर्वाधिक सिंचाई – कुओं व नलकूपों से
  • 2016–17 में कुओं व नलकूपों से सर्वाधिक सिंचाई वाला जिला – सीकर, झुंझुनूं और अलवर
  • नहरों से सर्वाधिक सिंचाई वाला जिला – गंगानगर
  • 2016–17 में तालाबों से सर्वाधिक सिंचाई वाला जिला – पाली
  • राजस्थान में सर्वाधिक सिंचाई वाला जिला – गंगानगर
  • 2016–17 में राजस्थान में न्यूनतम सिंचाई क्षेत्र वाला जिला – दूंगरपुर
  • सर्वाधिक सिंचित क्षेत्र वाली फसल – गेहूँ
  • राजस्थान की जलवायु – उष्ण कटिबंधीय शुष्क
  • गंगनहर से सर्वाधिक सिंचाई – गंगानगर जिले में
  • भाखड़ा नांगल परियोजना से सर्वाधिक सिंचाई – हनुमानगढ़ जिले में
  • राजस्थान का एकमात्र स्टॉक एक्सचेंज – जयपुर
  • राजस्थान के दक्षिणी आदिवासी क्षेत्रों की मुख्य सिंचाई परियोजना – सोम–कमला–अंबा (डूंगरपुर)
  • राजस्थान की सबसे बड़ी नहर – इंदिरा गाँधी नहर
  • IGNP की सबसे लंबी लिफ्ट नहर – कँवरसेन लिफ्ट नहर
  • बाजरा उत्पादन व क्षेत्रफल दोनों ही दृष्टि से राजस्थान का देश में स्थान – प्रथम
  • राई व सरसों में राजस्थान का देश में स्थान – प्रथम
  • राजस्थान में दिसंबर, 2019 तक स्थापित विद्युत क्षमता – 21176 मेगावाट
  • राजस्थान में सर्वाधिक विद्युत प्राप्ति – ताप विद्युत से
  • राजस्थान का प्रथम सुपर थर्मल पावर प्लांट – सूरतगढ़
  • राजस्थान का द्वितीय सुपर थर्मल पावर प्लांट – कोटा
  • राजस्थान में स्थित पहला गैस आधारित विद्युत संयंत्र – अंता (बाराँ)
  • राजस्थान की स्वयं की प्रथम गैस आधारित विद्युत परियोजना – रामगढ़ गैस परियोजना
  • राजस्थान का पहला व एकमात्र परमाणु शक्ति गृह – रावतभाटा (चित्तौड़)
  • राजस्थान का पहला लिग्नाइट आधारित विद्युतगृह – गिराल (बाड़मेर)
  • राजस्थान की प्रथम औद्योगिकी नीति – 24 जून, 1978 को घोषित
  • औद्योगिक विकास को सर्वोच्च प्राथमिकता – द्वितीय योजना में
  • राजस्थान में औद्योगिक विकास पर सर्वाधिक व्यय – 8वीं योजना में
  • राजस्थान का प्रमुख उद्योग – सूती वस्त्र उद्योग
  • राजस्थान में सर्वाधिक पंजीकृत फैक्ट्रियाँ – जयपुर जिले में
  • राजस्थान से सर्वाधिक निर्यात वाली वस्तुएँ – वस्त्र और रत्नाभूषण
  • राजस्थान से सर्वाधिक निर्यात – अमेरिका को
  • राजस्थान का पहला शिल्प ग्राम – हवाला गाँव (उदयपुर)
  • राजस्थान का सबसे छोटा नगर – बोरखेड़ा (बाँसवाड़ा)
  • राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में शामिल राजस्थान के स्थान – अलवर जिला तथा भरतपुर जिला
  • सड़कों का राष्ट्रीय घनत्व (मार्च, 2019) (प्रति 100 वर्ग किमी) – 179.41 किमी
  • राजस्थान में सड़कों की लंबाई (31.3.19 तक) – 264244.05 किमी
  • राजस्थान में सड़कों का घनत्व (31.3.19 तक) – 77.21 किमी./100Km2
  • राजस्थान में राष्ट्रीय राजमार्ग – 48
  • राजस्थान में 31.3.2018 तक राष्ट्रीय राजमार्गों की कुल लंबाई – 10599.67 किमी.
  • सर्वाधिक लंबे राष्ट्रीय राजमार्गों वाला जिला – 1. बीकानेर और 2. बाड़मेर
  • न्यूनतम लंबे राष्ट्रीय राजमार्गों वाला जिला – 1. करौली (56.19किमी) और 2. प्रतापगढ़ (100 किमी)
  • राजस्थान में सर्वाधिक लंबा राष्ट्रीय राजमार्ग – NH–11
  • राजस्थान में सबसे छोटा राष्ट्रीय राजमार्ग – NH–919
  • राजस्थान का सबसे व्यस्ततम राष्ट्रीय राजमार्ग – NH–48
  • राष्ट्रीय राजमार्गो की सर्वाधिक संख्या वाला जिला – जयपुर (9NH) और बाड़मेर (7NH)
  • राजस्थान का सुपर जिंक स्मेल्टर प्लांट – चंदेरिया (चित्तौड़गढ़)
  • राजस्थान में प्रथम रेल – आगरा फोर्ट से बाँदीकुई के बीच 1874 में
  • राजस्थान में प्रति 1000 वर्ग किमी. पर रेल रूट की लंबाई (31 मार्च 2019 को) – 17.348 किमी
  • राजस्थान में 31 मार्च, 2019 तक रेलमार्गों की लंबाई – 5937 रूट किमी
  • रेलमार्गों की दृष्टि से राजस्थान का स्थान – द्वितीय (प्रथम – उत्तरप्रदेश)
  • राजस्थान का जिला जहाँ कोई रेलमार्ग नहीं है – बाँसवाड़ा और प्रतापगढ़
  • राजस्थान का प्रथम व देश का 14वाँ अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा – साँगानेर (जयपुर)
  • एशिया का मीटरगेज का सबसे बड़ा रेलवे यार्ड – फुलेरा जंक्शन
  • राजस्थान में छोटी लाइन (नैरोगेज) – केवल धौलपुर में
  • देश का पहला लोको इंजन – 1895 में अजमेर लोको वर्क शॉप मे निर्मित्त
  • देश की प्रथम रेल बस – इजरा

वर्ष 2019 में राजस्थान में पर्यटकों की संख्या:

  • कुल पर्यटक – 538.26 लाख
  • विदेशी पर्यटक – 16.06 लाख
  • स्वदेशी पर्यटक – 522.20 लाख

पर्यटकों की संख्या में गत 2018 की तुलना में 2019 में प्रतिशत परिवर्तन:

  • कुल पर्यटकों में वृद्धि – 3.53 प्रतिशत
  • स्वदेशी पर्यटकों में वृद्धि – 3.95 प्रतिशत
  • विदेशी पर्यटकों में कमी – 8.44 प्रतिशत कमी
  • वर्ष 2019 में भारत में आए विदेशी पर्यटकों का राजस्थान में प्रतिशत भाग – 14.75 प्रतिशत
  • राजस्थान में विदेशी पर्यटक आगमन की दृष्टि से प्रमुख देश – 1. फ्रांस, 2. ब्रिटेन और 3. संयुक्त राजस्थान अमेरिका
  • राजस्थान में सर्वाधिक विदेशी पर्यटक – 1. जयपुर और 2. उदयपुर
  • राजस्थान में सर्वाधिक स्वदेशी पर्यटक – 1. अजमेर और 2. पुष्कर

शीर्ष सहकारी संस्थाएँ

  • राजस्थान में सहकारिता का प्रारंभ – 1904 में अजमेर में
  • वर्तमान सहकारिता अधिनियम – 14 नवंबर 2002 से लागू
  • शीर्ष सहकारी संस्थाएँ – 32
  • सहकारी शीत भंडार – जयपुर और अलवर
  • सहकारी ईसबगोल का कारखाना – आबूरोड़
  • सहकारी क्षेत्र में बर्फ का कारखाना – जयपुर में
  • राजस्थान का प्रथम विश्वविद्यालय – राजस्थान विश्वविद्यालय, जयपुर
  • राजस्थान का प्रथम एवं एकमात्र स्वास्थ्य विज्ञान विश्वविद्यालय – राजस्थान स्वास्थ्य विज्ञान विश्वविद्यालय, जयपुर
  • राजस्थान का प्रथम एवं एकमात्र तकनीकी विश्वविद्यालय – राजस्थान तकनीकी विश्वविद्यालय, कोटा
  • राजस्थान का प्रथम एवं एकमात्र संस्कृत विश्वविद्यालय – जगदगुरु रामानंदस्वामी राजस्थान संस्कृत विश्वविद्यालय, जयपुर
  • राजस्थान का प्रथम एवं एकमात्र खुला विश्वविद्यालय – वर्द्धमान महावीर खुला विश्वविद्यालय, कोटा
  • राजस्थान का प्रथम विधि विश्वविद्यालय – नेशनल लॉ यूनिवर्सिटी, जोधपुर
  • राजस्थान का पहला महिला विश्वविद्यालय – ज्योति विद्यापीठ महिला विश्वविद्यालय
  • राजस्थान का प्रथम एवं एकमात्र खेल विश्वविद्यालय – झुंझुनूं
  • पंचायती राज व्यवस्था का देश में सर्वप्रथम आरंभ – 2 अक्टूबर 1959 को नागौर में
  • राजस्थान पंचायती राज अधिनियम – 23 मार्च 1994 से लागू
  • भारत का पहला भूमिगत परमाणु परीक्षण – 18 मई, 1974 को पोकरण (जैसलमेर) में
  • भारत का दूसरा भूमिगत परमाणु परीक्षण – 11 और 13 मई, 1998 को खेतोलाई (पोकरण) में
  • पन्ने की सबसे बड़ी अंतरराष्ट्रीय मंडी – जयपुर
  • राजस्थान लोक सेवा आयोग – अजमेर
  • राजस्थान राजस्व मंडल – अजमेर
  • राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड – अजमेर
  • राजस्थान उच्च न्यायालय मुख्यालय – जोधपुर
  • राजस्थान उच्च न्यायालय खंडपीठ – जयपुर
  • राजस्थान के प्रमुख स्टेडियम
  • सवाई मानसिंह स्टेडियम – जयपुर
  • उम्मेद सिंह स्टेडियम – कोटा
  • महाराण भूपाल स्टेडियम – उदयपुर
  • बरकतुल्ला खाँ स्टेडियम – जोधपुर
  • इंदिरा गाँधी स्टेडियम – अलवर
  • सुखाड़िया स्टेडियम – भीलवाड़ा
  • डॉ. करणी सिंह स्टेडियम – बीकानेर
  • महाराजा गंगासिंह स्टेडियम – श्रीगंगानगर

राजस्थान की 14 खेल अकादमियां:

  • महिला बास्केटबॉल अकादमी – जयपुर
  • बालक बास्केटबॉल अकादमी – जैसलमेर और जयपुर
  • बालक फुटबाल अकादमी – जोधपुर
  • बालक कबड्डी अकादमी – करौली
  • महिला हॉकी अकादमी – अजमेर
  • बालक हॉकी अकादमी – जयपुर
  • बालक तीरंदाजी अकादमी – उदयपुर
  • बालिका तीरंदाजी अकादमी – जयपुर
  • बालक वॉलीबॉल अकादमी – झुंझुनूं
  • बालिका वॉलीबॉल अकादमी – जयपुर
  • बालक एथलेटिक्स अकादमी – श्री गंगानगर
  • बालिका एथलेटिक्स अकादमी – जयपुर
  • बालिका हैंडबाल अकादमी – जयपुर

No comments:

Post a comment