Search Study Material

Wednesday, 9 December 2020

International Anti-Corruption Day: जानें क्यों मनाया जाता है अंतरराष्ट्रीय भ्रष्टाचार विरोधी दिवस ? क्या है इसका महत्व

International Anti-Corruption Day: जानें क्यों मनाया जाता है अंतरराष्ट्रीय भ्रष्टाचार विरोधी दिवस ? क्या है इसका महत्व

दुनियां भर में लोग साल 9 दिसंबर को भ्रष्टाचार के खिलाफ जागरुकता फैलाने के लिए अंतरराष्ट्रीय भ्रष्टाचार विरोधी दिवस (International Anti Corruption Day) मनाते हैं।

भ्रष्टाचार सबसे जटिल सामाजिक, राजनीतिक और आर्थिक घटनाओं में से एक है, जिसने दुनिया के सभी देशों को प्रभावित किया है। दुनियां भर में लोग साल 9 दिसंबर को भ्रष्टाचार के खिलाफ जागरुकता फैलाने के लिए अंतरराष्ट्रीय भ्रष्टाचार विरोधी दिवस (International Anti Corruption Day) मनाते हैं।

International Anti Corruption Day


अंतरराष्ट्रीय भ्रष्टाचार विरोधी दिवस 2020 की थीम 

अंतरराष्ट्रीय भ्रष्टाचार विरोधी दिवस 2020 की थीम यूनाइटेड अगेंस्ट करप्शन है। ऐसा माना जाता है कि सतत विकास लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए भ्रष्टाचार को जीवन की सबसे बड़ी बाधाओं में से एक है। 2020 की थीम अगले दशक के एजेंडे का समर्थन करना जारी रहेगी, जो अपने अभियान में अधिक युवा को टारगेट करता है। यह उम्मीद की जाती है कि अगले दशक तक अधिक से अधिक युवाओं को एक स्थायी तरीके से भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ने के लिए सशक्त बनाया जाएगा। 

अंतरराष्ट्रीय भ्रष्टाचार विरोधी दिवस का इतिहास

अंतरराष्ट्रीय भ्रष्टाचार विरोधी दिवस का इतिहास 31 अक्टूबर 2003 से शुरू हुआ। जब यूएन महासभा ने भ्रष्टाचार के खिलाफ संयुक्त राष्ट्र के सम्मेलन को अपनाया था। तब से यूनाइटेड नेसन्स ऑफिस ड्रग्स एंड क्राइम (यूएनओडीसी) पर स्टेट पार्टियों (रेजुलेशन 58/4) के कॉन्वेशन के कॉन्फेंस के लिए सचिवालय के रूप में नामित किया गया था। संयुक्त राष्ट्र महासभा ने तब 9 दिसंबर को भ्रष्टाचार विरोधी दिवस (Anti-Corruption Day) के रूप में तय किया था, जबकि कॉन्वेशन दिसंबर 2005 में लागू हुआ था। संपूर्ण वैश्विक समुदाय को संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम (UNDP) और UNODC भ्रष्टाचार विरोधी प्रथाओं के बारे में जागरूकता पैदा करने के लिए मुख्य अग्रणी हैं।

यह भी पढ़ें

अंतरराष्ट्रीय भ्रष्टाचार विरोधी दिवस का महत्व

अंतरराष्ट्रीय भ्रष्टाचार विरोधी दिवस का महत्व विश्व स्तर पर भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई को तेज करना है और यह बताता है कि किसी को इससे कैसे और क्यों बचना चाहिए। इस दिन एंटी करप्शन ग्रुप्स में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है जो कदाचार के खिलाफ जागरूकता फैलाता है और बताता है कि अपने कार्यस्थल पर भ्रष्टाचार से कैसे लड़ना और बचना चाहिए। लोकतांत्रिक संस्थाओं की नींव को बचाने के लिए भ्रष्टाचार की जड़ें गहरी होने से रोकने की आवश्यकता है क्योंकि भ्रष्टाचार कानून के शासन को झुकाकर चुनावी प्रक्रियाओं को विकृत करता है। भ्रष्टाचार कई मायनों में देश के आर्थिक विकास को भी प्रभावित करता है।


संयुक्त राष्ट्र के आंकड़ों के अनुसार, हर साल 1 ट्रिलियन डॉलर का भुगतान घूस के रूप में किया जा रहा है, जबकि 2.6 ट्रिलियन डॉलर को भ्रष्ट उपायों से चुराया गया है। संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम के अनुसार यह अनुमान लगाया जाता है कि विकासशील देशों में भ्रष्टाचार के कारण 10 गुना धनराशि का नुकसान हुआ।

No comments:

Post a comment